newsआंदोलनछत्तीसगढ़

अनिश्चितकालीन आंदोलन के पहले कुटुम ऐप में एकजुट हुए 18000 से भी अधिक अनियमित कर्मचारी

संवाददाता हिमेन्द्र साहू

छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ का एक ऐसा ऐप जिसका नाम है कुटुंब ऐप | आपको बता दे की अनियमित कर्मचारी महासंघ ने 1 सितंबर 2022 से अनिश्चितकालीन आंदोलन में जाने का निर्णय लिया हैं वर्तमान में आंदोलन की पूर्व तैयारी के लिए एकता सम्मेलन का कार्यक्रम लगातार चल रहा है जिसमें आज दुर्ग जिले में एकता सम्मेलन का कार्यक्रम संपन्न हुआ और कार्यक्रम संपन्न होते ही छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ के कुटुम ऐप में 18000 अनियमित कर्मचारी से भी ज्यादा कर्मचारी इस ऐप में एक साथ जुड़ गए हैं। छत्तीसगढ़ के इतिहास में यह पहला कर्मचारी संगठन है, जिसके कुटुंब में एक साथ 18000 से भी अधिक कर्मचारी एक साथ जुड़े हुए हैं। कुटुम ऐप में 18000 की संख्या पूर्ण होते ही अध्यक्ष श्री रवि गढ़पाले जी ने छत्तीसगढ़ के समस्त अनियमित कर्मचारियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी, श्री गढ़पाले जी ने कहा की अनिश्चितकालीन आंदोलन के पहले हमारा लक्ष्य है कि हम इस ऐप में लगभग 25000 लोगों को एक साथ लाने की कोशिश कर रहे हैं ताकि महासंघ की हर एक गतिविधि ज्यादा से ज्यादा कर्मचारियों तक पहुंच सके।

वही बालोद जिला अध्यक्ष भूपेंद्र साहू का कहना है कि आज का समय है टेक्नोलॉजी का समय हैं डिजिटल का समय है आज हर एक कर्मचारी के हाथ में मोबाइल फोन है हर एक कर्मचारी व्हाट्सएप, टेलीग्राम,फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम जैसे ऐप को कम से कम 3 घंटा रोज चलाते हैं उसी को देखते हुए हमने कुटुम के माध्यम से प्रदेश के लाखों अनियमित कर्मचारियों को एक प्लेटफार्म में जोड़ने का काम शुरू किया लक्ष्य बड़ा था हिम्मत नहीं हारे लगातार प्रयास किए हर एक कर्मचारी को जोड़ने का काम किए पहले 1000 का लक्ष्य रखा, फिर 5000 का लक्ष्य रखा, फिर 10000 का लक्ष्य रखा, फिर 15000 का लक्ष्य रखा और आज 18000 कर्मचारी से भी अधिक इस कुटुम ऐप में जुड़ चुके हैं 180000 अनियमित कर्मचारी का 10 परसेंट मतलब 18000 अनियमित कर्मचारी तक हम वर्तमान में महासंघ के संदेशों को एक साथ इस ऐप के माध्यम से पहुंचा सकते हैं।

Back to top button