जाजंगीर चांपा

फर्जी जिओ टैग करने के आरोप पर जांच टीम गठित देखिए

साकेत जांगडे

ग्राम पंचायत नवापारा के रोजगार सहायक के ऊपर लगा है फर्जी जिओ टैग करने का आरोप

जाजंगीर चांपा। मालखरौदा जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत में आवास योजना में काफी भ्रष्टाचार देखने को मिला है कुछ ऐसे ही मामला हमें ग्राम पंचायत नवापारा में देखने को मिला जहां नावापारा के ग्रामीणो और पंचो ने आरोप लगाया है कि ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक ने अपने निजी रिश्तेदार को लाभ पहुंचाने और सरकार को दोखा देने के लिए पूर्व में निर्मित मकान को ही नये मकान के लिए जीयो टेग कर दिया गया है। ग्रामीणों एवं पंचो ने इसकी शिकायत मालखरौदा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी से लिखित में किया है और जल्द से जल्द कार्यवाई की मांग भी किया है। ग्रामीणों ने अपने शिकायत में बताया है ग्राम पंचायत नावापार में वित्तीय वर्ष 2017-18 में जोहनमती वेवा पुनीराम साहू के नाम पर प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत आवास स्वीकृत हुआ था, जिसका निर्माण कार्य पुरा कर लिया गया है। फिर वित्तीय वर्ष 2018-19 में उदयकुमार पिता पुनीराम साहू के नाम पर आवास योजना के तहत आवास स्वीकृत हुआ। उदयकुमार द्वारा उन्की माँ जोहनमती के द्वारा निर्मित मकान को द्वितीय किश्त के लिए जीयो टेग कराया गया था,जो ग्राम पंचायत के निरिक्षण के दौरान पता चला की उदयकुमार द्वारा उनकी माँ की ही मकान को दिखाकर जीयो टेग की जानकारी होने पर सचिव ग्राम पंचायत नावापारा द्वारा द्वितीय किश्त की राशि पर रोक लगाए जाने के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी मालखरौदा को दिनांक 14/01/2019 को पूर्व से निर्मित मकान को हितग्राही द्वारा आवास मित्र से सांठ गांठ कर किये गये जीयो टेग को निरस्त करने की लिखित शिकायत कि गई थी।आवास मित्र पद से हटने के बाद ग्राम पंचायत नावापारा के रोजगार सहायक रोहित साहू के द्वारा जोहनमति द्वारा निर्मित मकान को उदयकुमार के नाम से जीयो टेग कर मनरेगा और आवास की राशि को अपने निजी रिश्तेदार को लाभ पहुंचाकर शासन को नुकसान पहुंचाकर राशि का गबन किया गया है। साथ ही ग्रामीणो यह भी बताया है की जोहनमति रोजगार सहायक रोहित साहू के सगे चाची है और उदयकुमार चचेरे भाई है इसी कारण रोजगार सहायक के द्वारा इस तरह से भ्रष्टाचार किया गया साथ ही ग्रामीणो ने जल्द से जल्द रोजगार सहायक के ऊपर कार्यवाही करने की मांग मालखरौदा सीईओ से किया है इन्हीं सभी शिकायतों की उचित जांच के लिए मालखरौदा जनपद से जांच टीम का गठन किया गया है जिसमें के के बरेठ ( शाखा प्रभारी विकासखंड समन्वयक प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण) तथा लक्ष्मी प्रसाद भक्त ( सहा. आँ. ले. परी. एवं करारोपन अधिकारी) को शामिल किया गया है। मालखरौदा जनपद पंचायत से जांच आदेश 4 नवंबर 2020 को जारी हो गया है जिसमें तीन दिवस के भीतर में जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का आदेश जारी कर दिया गया है मगर आज 18 नवंबर हो गए को है अर्थात 14 दिन पूरे हो गए मगर जांच तक नहीं हो पाया है। अब यहां देखने वाली बात है कि कब तक जांच किया जाएगा।

“कल परसो तक हो जाएगा जांच “
( के के बरेठ ब्लाक समन्वयक )

Back to top button