छत्तीसगढ़जाजंगीर चांपाठगी

मोबाइल टावर लगाने के नाम पर 39 लाख रुपये की ठगी

जांजगीर-चांपा । जांजगीर थाना क्षेत्र में निवासी शैलेंद्र कुशवाहा नामक व्यक्ति ने जमीन पर मोबाइल टावर लगाने के नाम पर अलग-अलग किस्तों में 39 लाख रुपये प्रोसेसिंग फीस के नाम पर ठगी की। पीड़ित व्यक्ति ने इस मामले में 8 फरवरी 2021 को जांजगीर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

जांजगीर-चांपा जिले की पुलिस ने मोबाइल टावर लगाने के नाम पर 39 लाख रुपये ठगी करने वाले तीन आरोपियों को कोलकाता से ट्रांजिट रिमांड पर गिरफ्तार कर जांजगीर लाई है। पूरा मामला जांजगीर थाना क्षेत्र का है,जहां पर जांजगीर निवासी शैलेंद्र कुशवाहा नामक व्यक्ति ने उसकी जमीन पर मोबाइल टावर लगाने के नाम पर अलग-अलग किस्तों में 39 लाख रुपये प्रोसेसिंग फीस के नाम पर ठगी करने की रिपोर्ट 8 फरवरी 2021 को जांजगीर थाने में दर्ज कराई थी।

तीन आरोपी गिरफ्तार

पीड़ित के मुताबिक मोबाइल टावर लगाने वाली कंपनी के अधिकारी होने का हवाला देते हुए आरोपियों ने उसे झांसे में लिया था। उससे अलग अलग डेट पर प्रोसेसिंग फीस के नाम पर उससे 39 लाख रुपये अपने खाते में जमा करा कर ठग लिए थे। जांजगीर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज होने के बाद साइबर एक्सपर्ट की मदद से इन आरोपियों तक पहुंचने में सफलता पाई।
कोलकाता जाकर ट्रांजिट रिमांड लेकर इन्हें जांजगीर लाया गया। आरोपियों के पास से 25 हजार रुपये नकदी के साथ कई बैंकों के एटीएम और कई पैन कार्ड भी बरामद किए गए हैं। इस मामले के चार अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी अभी बाकी है। इसके लिए टीम कोलकाता जाएगी और उन्हें गिरफ्तार कर जांजगीर लाएगी। फिलहाल तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button