रायगढ़

पत्रकारों के हक की लड़ाई में प्रेस क्लब हमेशा साथ है-हेमन्त थवाईत अध्यक्ष प्रेस क्लब रायगढ़

पत्रकारों को शिकायत पर तीन दिन तक एफ आई आर नही किया जाने वाला पुलिसिया रवैया सर्वथा निंदनीय..पत्रकार गण

रायगढ़:- बीते दिनों वरिष्ठ पत्रकार के घर घुस कर उन्हें गुंडा तत्वों के द्वारा सपरिवार आतंकित करने की घटना को लेकर जहां प्रदेश भर के पत्रकारों में गहरा आक्रोश है तो वही जिले के पत्रकारों ने भी उक्त घटना को लेकर कड़े शब्दों में निंदा की है।

इस मामले को लेकर आज जिला मुख्यालय रायगढ़ के होटल पथिक में शाम 4 बजे एक आवश्यक बैठक आहूत की गई। जिसमें पीड़ित पत्रकार ने सांथी पत्रकारों को घटना क्रम की जानकारी दी और बताया कि किस वजह से उक्त लोग 9 मार्च 2021 की सुबह करीब 12 बजे बुरी नीयत से उनके घर बालात घुस आए थे। उनके द्वारा खबर प्रकाशन को लेकर बुरे परिणाम भुगतने की धमकियां दी गईं थी।

बैठक के दौरान पीड़ित पत्रकार ने यह भी बताया कि घटना को अंजाम देने वाले दबंग आरोपियों की सामाजिक छवि बेहद खराब है। उनके द्वारा क्षेत्र में एक तरह का आतंक राज कायम किया गया है। राजनीतिक संरक्षण की आड़ में माफियागिरी करने वाले इन असमाजिक तत्वों को कानून और पुलिस का भय कतई नही है।। इनके द्वारा वर्ष 2013-14 में पत्रिका के ब्यूरो हेड वरिष्ठ पत्रकार प्रवीण त्रिपाठी पर जानलेवा हमला भी किया गया था। वही घर घुसने वाले दो प्रमुखों में एक भारतीय जनता पार्टी की आड़ में तमाम आपराधिक कार्यों को अंजाम देता रहा है। उसके संरक्षण में दूसरा व्यक्ति भू-माफिया बना हुआ है। बैठक में उपस्थित पत्रकारों का यह कहना था कि यद्यपि इनके पुराने अपराधिक रिकार्डों को देखते हुए पुलिस को इनके विरुद्ध प्रथम दृष्टया ही एफ आई आर दर्ज करना चाहिए था । परन्तु समय रहते ऐसा नही करने से पत्रकारों में पुलिस के व्यवहार को लेकर निराशा देखी गई ।

उन्होंने तय किया कि सम्मानजनक और सुरक्षित नतीजा नही निकलने तक पुलिस के समाचारों का पूर्णतः बहिष्कार किया जाना उचित रहेगा। बैठक खत्म करने के बाद पत्रकार साथी प्रेस क्लब अध्यक्ष हेमन्त थवाईत और सचिव नवीन शर्मा से मिलने कार्यालय पहुंचे। जहां घटना क्रम पर चर्चा के अलावा उक्त मामले में संगठित लड़ाई लड़ने की बात पर सहमति हुई। प्रेस क्लब अध्यक्ष हेमन्त थवाईत ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि इस तरह पत्रकारों को डराने धमकाने का कृत्य किसी भी सूरत में बर्दास्त नही किया जाएगा। हम सब मिलकर पत्रकारों के सम्मान और सुरक्षा की लड़ाई लड़ेंगे। वही सचिव नवीन शर्मा ने कहा यह पूरा मामला दुःखद और निंदनीय है। प्रेस क्लब इस लड़ाई में पीड़ित पत्रकार नितिन सिन्हा,नवरतन शर्मा के साथ है। होटल पथिक में आज हुई बैठक में शामिल पत्रकारों में वरिष्ठ पत्रकार विनय पांडे(मुनादी)शमशाद अहमद(uni),टिल्लू शर्मा(टूटी कलम),मुरलीधर बोहिदार(खःबर चालीसा,अमृत सन्देश)विवेक श्रीवास्तव(आगाज)मनीष अग्रवाल(नई- दुनिया)अभिषेक उपाध्याय(दैनिक बयार)महादेव पड़िहारी(रायगढ़ अंचल)प्रकाश थवाईत(न्याय की गोठ),भीमसेन तिवारी(आप की आवाज),नवरत्न शर्मा(सिंहघोष/खबरों की दुनिया),निमेष पांडे(रायगढ़ सृष्टि)कैलाश आचार्य(भारत सम्मान) आशीष यादव(सत्य खबर),आकांक्षा शर्मा(खःबर सार) दुर्गा चौहान(ग्राम भारत.कॉम)नितिन सिन्हा(dnn news, news world) उपस्थित रहे। वही प्राप्त जानकारी के अनुसार रायगढ़ बैठक के समर्थन सारँगढ़ और बिलासपुर में भी पत्रकार साथियों ने भी पृथक बैठक आयोजित की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button