सारंगढ़

दस से बारह एकड़ खेत में लगा दी आग सारंगढ़ क्षेत्र का है मामला देखिए वीडियो…

सारंगढ़ । फसल की कटाई के बाद पैरा (पराली) और ठूंठ को नहीं जलाने के लिए लगातार शासन द्वारा आगाह किया जा रहा है, लेकिन कई किसान इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं । फसल कटाई के बाद खेतों में पैरा को आग के हवाले कर रहे हैं । ऐसे ही सारंगढ़ अन्तर्गत आने वाला ग्राम पंचायत नौरंगपुर में भी तकरीबन दस से बारह एकड़ के बीच पुलाव मे आग लगा दिया है । वही सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नौरंगपुर के एक किसान गुलाब चंद पटेल पैरा को खेत में जलाया है , वैसे बता रहे हैं । वही गाव के ग्रामीणों ने भी बताया कि – नाम न छापने की शर्त पर की पैरा में आग लगाया है । वह चाहता तो पैरा गोठान में भी दे सकता था ।


गोठानों में बड़ी संख्या में मवेशी हैं। इन मवेशियों के लिए गर्मी के दिनों में चारे की समस्या होती है। ऐसे में पैरा को खेत में जलाने के बजाय गोठानों को दिया जा सकता था। हार्वेस्टर फसल की कटाई के साथ दाने के अलग कर देता है और पैरा खेत में छोड़ता है। किसान उस पैरा को एक जगह पर इकट्ठा कर सकते हैं, उसके बाद दूसरी फसल उत्पादन के लिए तैयारी कर सकते हैं, लेकिन जरा सी मेहनत और मजदूरी बचाने के लिए पैरा को खेत में ही जला देते हैं। वही अब ये तो जांच का विषय है कि – किसने खेत मे आग लगाई और पूरे गाँव मे प्रदूषण फैला दिया । वही रात को गांव वालों को सांस लेने में बहुत तकलीफ हो रही थी । ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जल्द ही रायगढ़ कलेक्टर और सारंगढ़ एस डी एम से करने की बात कही है । अब देखना लाजमी होगा कि शासन प्रशासन इस किसान के ऊपर क्या कार्यवाही करती है ?

क्या कहते है नौरंगपुर के सरपंच –
जब हमने इस संबंध में दुरभाष के द्वारा हमारे संवददाता ने नौरंगपुर के सरपंच से बात की तो उन्होंने बताया कि – हमने गाव में मुनियादी करवा दिया था और मैं अभी बाहर हूँ कल पता करके बताऊंगा की किसने आग लगाया है ।

नौरंगपुर खेत लगीं आग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button