छत्तीसगढ़सारंगढ़

सारंगढ़ मे सरकारी चावल खा रहे मुर्दे, शक्कर से कर रहे मुंह मीठा जानिये आखिर क्या है पूरा मामला…

सारंगढ़। राशन दुकानों में हो रहा चावल घोटाला थामने का नाम नहीं ले रहा है। सारंगढ़ तहसील क्षेत्र अंतर्गत आने वाले गांव सिलयारी में स्थित शासकीय राशन दुकान आईडी क्रमांक 412003113में हुआ बड़ा गोलमाल सामने आया है। यहां पर बीते छह माह से दो मृत व्यक्तियों के नाम से चावल की कालाबाजारी की जा रही है।हमारे सामाचार को मिले दस्तावेज बतातें है कि राशन दुकान संचालक राशन कार्ड संख्या 223862551533से फर्जी फोटोग्राफ अपलोड करके छह माह से 35 किलो चावल, 1 किलो शक्कर निकाल रहे हैं। इस कार्ड से राशन लेने वाली सवारीन निराला की मौत छह माह पहले हो चुकी है।सारंगढ़ क्षेत्र में ऐसे कई राशन दुकान हैं, जिनमें कई मृत लोगों के नाम का राशन दुकान संचालक खा रहे हैं। राशन कार्ड संख्या 223869152869 छेनाबाई के नाम से है उनकी मौत आठ माह पहले हुई है, उनके नाम का भी चावल, केरोसिन और शक्कर निकल रहा है। शासकीय राशन दुकान आईडी 412003113में छेनाबाई की मौत आठ माह पहले हुई, लेकिन राशन आवंटन जारी है। सवाल उठता है कि मरे हुए लोगों का नाम राशन कार्ड से क्यों नहीं हटाया गया

नतीजा यह है कि अब यहां बड़ा गोलमाल सामने आया है।

छह माह से आठ माह तक बन्दर बाट

सिलयारी स्थित राशन दुकान क्रमांक
412003113में छेनाबाई की मौत आठ माह पहले हुई, लेकिन राशन आवंटन जारी है।सवारीन निराला की मौत छह माह पहले हो चुकी है फ़िर भी खाद्यान्न का बंदरबांट किया जा रहा है

राशन के लिए भटक रहे हैं लोग

दुकान संचालक मृत व्यक्तियों के नाम से चावल, केरोसिन व शक्कर निकल रहे हैं, लेकिन जिंदा हितग्राहियों को राशन नहीं मिला रहा है। पिछले कई माह से यह खेल चल रहा है।

खाद्य विभाग के अधिकारियों द्वारा चहेते व्यक्तिों को दुकान आवंटित करने के लिए फर्जी कार्रवाई की जाती है। अब मृत व्यक्ति के नाम से राशन निकल रहा है तो कार्रवाई के नाम खानापूर्ति की तैयारी है

खाद अधिकारी से बात करने पर

मामले की शिकायत मिली है।खाद्य नियंत्रक को जांच के निर्देश दिए जाएंगे। संस्था ने यदि गड़बड़ी की है तो नियमानुसार सख्त कार्रवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button