सारंगढ़

20 वर्षीय युवक की थ्रेसर मशीन में दब कर गई जान सारंगढ़ का मामला पड़िए

ताजा मामला सारंगढ़ थाना अन्तर्गत आनेवाले ग्राम पंचायत खैरा छोटे के आश्रित गांव भंवरादादर का है जहां महेन्द्र जाटवर पिता घनश्याम जाटवर उम्र लगभग 20 वर्ष का लड़का बेरोजगारी के चक्कर में गांव के ही एक थ्रेसर मशीन में काम करता था परन्तु उसे क्या पता था की लापरवाह चालक की वजह से उसे अपनी जान गवानी पडेंगी तथा वहीं घटना 3 नवम्बर की है जब थ्रेसर मशीन में धान मिसने का कार्य कर रहे थे

मृतक महेन्द्र जाटवर

जैसे ही एक किसान का धान मिसाई पूर्ण हुआ तत्पश्चात अन्य किसान के खेत मे धान मिसने जा रहे थे लापरवाह डायवर ने गाडी तेज गति से चलाते हुए गाड़ी पलठा दी जिसमें महेन्द्र जाटवर जमीन में जा गिरा और थ्रेसर मशीन में दब गया

मृतक

अन्य साथियों के द्वारा फिर उनकों बड़ी मेहनत से थ्रेसर मशीन में दबें महेंद्र जाटवर को निकाल कर सारंगढ़ srk हास्पिटल लेजाया गया महेंद्र जाटवर की घर की स्थिति इतनी नहीं थीं कि उनका इलाज में आने वाले खर्च की भरपाई कर पाते वहीं वाहन मालिक जीवन लाल साहू ने इलाज में जितनी खर्च आयेगा देंगे किन्तु थाने में शिकायत नहीं करने का आग्रह किया।

घर परिवार की स्थिति देख पिड़ित परिवार राजी हो गया परन्तु जब रुपये हास्पिटल मे जमा करने की बात आयी तो साफ साफ वाहन मालिक द्वारा मना कर दिया, उसी दरमियान 16 नवम्बर की महेन्द्र जाटवर की इलाज के दौरान मृत्यु हो गई पड़ित परिवार ने वाहन मालिक व लापरवाह डायवर उमेश निराला उम्र लगभग 17 वर्ष बताया जा रहा है तथा उनके पास लाइसेंस भी नहीं है।

पिड़ित परिवार

वहीं सारंगढ़ थाना में वाहन मालिक जीवन लाल साहू पर अपराध दर्ज कर लिया गया है,तथा गाड़ी को भी दो दिन पहले जप्ती बना कर आगे की कार्यवाही की जा रही हैं।

सारंगढ़ थाना में वाहन जप्ती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button