Uncategorizedछत्तीसगढ़धमतरी

11 साल की बच्ची सहित 2 लोगों की फिर हाथियों ने ली जान …।

धमतरी। छत्तीसगढ़ के धमतरी में हाथियों का उत्पात थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक बार फिर हाथियों ने सोमवार सुबह 11 साल की बच्ची सहित 2 लोगों की जान ले ली। बच्ची अपने पिता के साथ महुआ बीनने के लिए जंगल में गई थी। कुछ देर बाद उसे एग्जाम देने के लिए स्कूल जाना था। वहीं एक महिला को भी हाथियों ने मार दिया। तीन दिनों में हाथियों के हमले में 5 लोगों की मौत हो चुकी है। वही जंगल की सुरक्षा करने वाला वनकर्मी अपनी 12 सूत्रीय मांगो को लेकर 22 दिन से हडताल पर बैठे हुए है। ऐसे मे जंगल और लोगो की सुुरक्षा अब भगवान भरोसे है।

घटना नगरी वनपरिक्षेत्र के ही चारगांव के जंगल में हुई। यहां संबलपुर निवासी एक महिला लकड़ी बीनने के लिए गई थी। इसी दौरान हाथियों ने उस पर हमला कर दिया। महिला जान बचाकर भागी। लेकिन तब तक हाथी ने उसे सूंड़ से उठाकर पटक दिया। अभी तक महिला का नाम नहीं पता चल सका है। सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच रही है।

बता दे कि हाथियों ने एक दिन पहले ही तीन लोगों की जान ली थी। इसमें 22 साल की युवती, महिला और पुरूष शामिल हैं। हाथी ने महिला को सूंड़ से उठाकर पटक दिया था। वह अन्य महिलाओं के साथ जंगल में लकड़ी बीनने गई थी। वहीं युवती का शव उसकी झोपड़ी के बाहर मिला था। जांच के दौरान वनकर्मियों को घटना स्थन से करीब 200 मीटर दूर पांवद्वार डैम के पास एक और ग्रामीण का भी शव मिला था। इधर हाथी के हमले से हो रही मौतो को लेकर वन विभाग भी सकते मे है। कलेक्टर पी एस एल्मा का मानना है कि हाथियो के हमले पर कंट्रोल नहीं हो रहा है। वन विभाग लगातार निगरानी कर रहा है। और गाँवो मे मुुनादी करारकर लोगो को जंगल मे नहीं जाने की अपील कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button