Uncategorized

शर्मनाक करतूत:-पत्नी पर दबाव बनाने,तीन वर्ष की मासूम बच्ची का अपहरण ।

भोपाल 3 मई 2021 । मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 3 साल की मासूम के अपहरण का मामला सामने आया है। आरोपी बच्ची का सौतेला पिता निकला। वह बेटी का अपहरण करके पत्नी पर घर चलने के लिए दबाव बनाना चाह रहा था, हालांकि पुलिस के पीछे पड़ते ही आरोपी मासूम को घर के पास छोड़कर फरार हो गया। घटना के बाद से ही मासूम डरी सहमी है। वह सोते में भी जोर-जोर से रोने लगती है।

गुनगा पुलिस के अनुसार ग्राम धमर्रा में रहने वाली तीन साल की मासूम के अपहरण किए जाने की सूचना मिली थी। पुलिस ने उसकी मां की रिपोर्ट पर तत्काल मासूम की तलाश शुरू कर दी। वह अपनी मां के साथ नानी के घर पर रह रही थी। बच्ची की मां ने बताया कि पहले पति की मौत के बाद उसने भानपुर में रहने वाले सोनू नाम के एक युवक से शादी कर ली थी। कुछ दिन तक साथ रहने के बाद सोनू उससे विवाद करने लगा। इस कारण उसने उसका साथ छोड़ दिया और वह बेटी को लेकर अपनी मां के घर आ गई। शनिवार सुबह करीब 10 बजे उसकी बेटी गायब हो गई थी। लोगों ने सोनू को गांव में देखा था। वह बाइक से बच्ची को ले गया था। पुलिस ने इसी आधार पर सोनू की तलाश शुरू कर दी।

बच्ची के गायब होने के बाद ग्रामीणों ने भी उसकी तलाश की, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। पुलिस ने लोगों के बयान के आधार पर सोनू के परिजनों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया, तो आरोपी पकड़े जाने के डर से बच्ची को देर शाम घर से कुछ दूरी पर छोड़कर फरार हो गया। पुलिस के अनुसार 22 वर्षीय महिला के पति करीब ढाई साल पहले फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। उस दौरान उसकी मासूम करीब 6 महीने की थी। एक साल बाद ही महिला ने 25 साल के सोनू से शादी कर ली। उसके बाद से ही मां बेटी सोनू के साथ रह रही थीं।

महिला ने बताया की सोनू उससे मारपीट करने लगा था। इसलिए वह दो दिन पहले सोनू को छोड़कर बेटी के साथ अपने मायके आ गई। वह दो दिन से लगातार फोन कर घर वापस आने की जिद कर रहा था। उसने उसकी बेटी उस पर ही दबाव बनाने के लिए अगवा की थी।

गुनगा थाना प्रभारी रमेश राय ने बताया कि आरोपी सोनू नशे का आदी है। वह शराब से लेकर गंजा तक सभी तरह का नशा करता है। मासूम उसकी सौतेली बेटी थी। ऐसे में पुलिस को डर था कि कहीं वह पकड़े जाने के डर से बच्ची के साथ कुछ गलत न कर दे, इसलिए पुलिस ने पूरी सावधानी के साथ इस अभियान को पूरा किया। उसके परिजनों पर प्रेशर के साथ ही समझाइश देकर सोनू को बच्ची को छोड़ने के लिए राजी कराया। बच्ची के सही-सलामत मिलने के बाद ही सभी ने राहत की सांस ली। राय ने उम्मीद जताई ही हम जल्द ही आरोपी सोनू को गिरफ्तार कर लेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button