Uncategorizedक्राइमछत्तीसगढ़रायगढ़

हार्डवेयर व्यापारी से 2 लाख रूपये की धोखाधड़ी पर एफआईआर… इंटरनेट पर विज्ञापन देख पार्ट्स खरीदी के लिये दिया था 2 लाख रूपये एडवांस…..

माल की डिलीवरी न कर कोलकता के दो व्यक्ति किये ठगी…..

*रायगढ़* । दिनांक 22.03.2022 को थाना चक्रधरनगर में कसेरपारा , चक्रधरनगर में रखने वाले अनिल कुमार गर्ग (56 साल) आवेदन देकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि अपोजी इण्डस्ट्रीज कम्पनी सलकिया, हावड़ा, कोलकता द्वारा इंटरनेट पर इनकी कम्पनी नट, राड, बोल्ट, क्लेम्प, टाइरड इत्यादि लोहे की वस्तुओं का निर्माण व विक्रय का कार्य करती है, जिसमें मोहम्मद मेहबूब अंसारी को प्रोडक्शन मैनेजर तथा सचिन बण्डल को सेल्स मैनेजर के रूप में दर्शाया गया था, जिस पर विश्वास कर *दिनांक 27/03/2021* को हावड़ा जाकर मेहबूब अंसारी से मुलाकात किया और अपने हार्डवेयर दुकान के आवश्यकता के रड और नट का सेंपल दिखाया, जिस पर मेहबूब अंसारी बोला कि कि व नट तथा टाई राड के मूल्यों का कोटेशन भेजेगा और एडवांस रकम भेजने के 15 दिन के भीतर माल की डिलेवरी कर देगा । *दिनांक 30/03/2021 को सेल्स मैनेजर सचिन बण्डल* के हस्ताक्षर का कोटेशन 5,56,900/- रूपये का मेहबूब अंसारी के माबाईल से भेजा जिसके बाद मेहबूब अंसारी अपना एकाउंट नम्बर वाट्सएप नम्बर कर 2 लाख रूपये एडवांस भेजने का मैसेज किया । जिस पर भरोसा करके दिनांक 30/03/2021 की RTGS के माध्यम से मेहबूब अंसारी के बताए एकाउन्ट नम्बर बैंक शाखा सलकिया हावड़ा में अपने एकाउन्ट नम्बर से 2 लाख रूपये भेजा जिसके बाद भी सचिन बण्डल और मेहबूब अंसारी कोई माल नहीं भेजे जिसके बाद उन्हें फोन करने पर वे फोन भी नहीं उठाये, अब पता चला कि सचिन बण्डल और मेहबूब अंसारी धोखाधड़ी के इरादे से इंटरनेट में फर्जी विज्ञापन डालकर धोखाधड़ी किया गया है । रिपोर्टकर्ता के लिखित आवेदन पर आरोपियों के विरूद्ध *धारा 420,34 IPC* का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button