Uncategorizedक्राइमछत्तीसगढ़रायगढ़

आई.डी.एफ.सी. बैंक का लोन एजेन्ट बताकर ग्रामीण से 2 लाख रूपये की धोखाधड़ी….

लोन दिलाने के नाम पर लिये ब्लैंक चेक से दूसरे खाते में रूपए ट्रांसफर….

छाल थाने में दो आरोपियों पर धोखाधड़ी का अपराध दर्ज….

*रायगढ़* । दिनांक 25.03.2022 को थाना छाल में जगलाल राठिया (45 साल) निवासी ग्राम जामपाली पोस्ट बेहरामार, छाल के द्वारा लिखित अनावेदक देकर लोरेन्स लकडा पिता सेनाथ लकडा ग्राम काजूबाडी ग्राम पंचायत रैरूमा खुर्द तहसील धरमजयगढ़ तथा शुभम इलेट्रानिक पत्थलगांव के विरूद्ध इसके चेक से 2,00,000 रूपये अन्य खाता में ट्रांसफर धोखाधड़ी करने का रिपोर्ट दर्ज कराया गया है । रिपोर्टकर्ता बताया कि प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी धान विक्रय की राशि समिति द्वारा इसके छ.ग. ग्रामीण बैक शाखा हाटी के खाता में जमा कराया गया है । लड़की के विवाह तथा खेती के लिये रुपयों की आवश्यकता पड़ने पर गांव के कुछ लोगों से लोन के संबंध में चर्चा किया जिस पर ग्राम काजूबाडी, रैरूमा के लोरेन्स लकड़ा द्वारा लोन दिला दिलाये जाने की जानकारी हुआ । दिनांक 22.01.2021 को गांव के रति राम राठिया के घर में लोरेन्स लकड़ा से सम्पर्क किया । लोरेन्स लकड़ा अपने आप को आई.डी.एफ.सी. बैंक का लोन एजेन्ट बताया था तथा बैंक से 5 से 25 लाख रुपये तक की लोन दिलाने की बात कहकर भूमि का बी - 1 खसरा, चेक बुक ,बैंक पास बुक एवं आधार कार्ड की छायाप्रति का मांगा । तब उसके बातों में विश्वास कर गांव के 3-4 लोगों के समक्ष हस्ताक्षर किया हुआ 6 ब्लैंक चेक और सभी कागजात दिया । दिनांक 27.01.2021 को ग्रामीण बैंक शाखा हाटी रूपये निकाले गया तो शाखा प्रबंधक बताये की दिनांक 25.01.2021 को चेक द्वारा 2 लाख रूपये आहरण दिखा रहा है जो ग्रामीण बैंक शाखा पत्थलगांव जिला जशपुरनगर से आहरण हुआ है । तब दिनांक 28.01.2021 को ग्रामीण बैंक शाखा पत्थलगांव जाकर शाखा प्रबंधक से चेक आहरण के संबंध में पूछताछ करने पर बताया कि दिनांक 25.01.2021 को एक व्यक्ति बिना रकम भरे एवं बिना नाम लिखे सिर्फ जगलाल का हस्ताक्षर किया हुआ चेक को बैंक में जमा किया था जिससे पूछे कि जगलाल कहाँ है तो उसने बताया कि यहां नहीं आया है । खेत तरफ गया है, फिर फोन से बात कराने को कहा पर उसने बताया कि कवरेज क्षेत्र से बाहर है फिर उसे रकम देने से इंकार कर दिये तो उसने शुभम इलेक्ट्रानिक पत्थलगांव को फोन कर बैंक में बुलाया और शुभम इलेक्ट्रानिक पत्थलगांव वाले ने बैंक में कुछ नहीं होगा रूपये दे दीजिये कहकर स्वयं के हाथों से चेक में अपना नाम एवं 200000.00(दो लाख रू.) भरकर अपने खाता में ट्रांसफर किया । चेक आहरण का स्टेटमेंट देखने पर पता चला कि 200000.00 रुपये शुभम इलेक्ट्रानिक के नाम पर ट्रांसफर दिखा रहा है जबकि शुभम इलेक्ट्रानिक पत्थलगांव से किसी प्रकार कोई लेन देन नहीं है न ही जान परिचय है । लोरेंस लकड़ा, शुभम इलेक्ट्रानिक वाले से मिलकर धोखा धड़ी किया गया है जो फोन से सम्पर्क करने पर एक सप्ताह में पैसा वापस कर दूंगा कहकर आज तक नहीं लौटाया । आरोपियों पर थाना छाल में *धारा 420 IPC* का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी पतासाजी में लिया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button