Uncategorizedक्राइमछत्तीसगढ़जाजंगीर चांपा

जांजगीर चांपा/डभरा GST में फर्जीवाड़े की जहां नेताओं के संरक्षण में GST धारक संजय कुमार चंद्रा द्वारा जनपद पंचायत डभरा में अनियमितता दिखाते हुए एवं cencelled (रद्द) GST के माध्यम से करोड़ो का बिल फाड़ पंचायतों को दे दिया गया जहां शासन से रद्द GST में करोड़ो रूपयो का भुगतान करा दिया गया है….।


जांजगीर चांपा/ बता दें कि जीएसटी धारक संजय चंद्रा ने अपना जीएसटी रजिस्ट्रेशन 15/07/2018 को विभाग में आवेदन दे कर रद्द करवा दिया था , इस रद्द GST का संजय चंद्रा द्वारा गलत फायदा उठाया गया है जिसमे रद्द जीएसटी के बिल को कमीशन पाने के लालच में अनेकों पंचायतों से भुगतान करवा लिया गया है , जहां रद्द जीएसटी में व्यापारी की कोई भी जानकारी देने की जरूरत नहीं पड़ती , इसे यूं समझे की व्यापारी ने अपना व्यापार बंद कर दिया है, जब आरोपी का व्यापार बंद हो गया है तो इस रद्द जीएसटी से बिल जारी करने की अनुमति नहीं है, ।

परंतु संजय चंद्रा द्वारा शासन के नियम को ठेंगा दिखाते हुए नेताओं के समर्थन से सरकार को करोड़ो का चूना लगाया गया है , रद्द जीएसटी में बिल जारी करना शासन के नियमो के विरुद्ध है, जहा शासन कर एवं व्यापार में चोरी एवं मुनाफाखोरी को रोकने हेतु राष्ट्रीय स्तर पर GST अधिनियम लाया है , वही संजय चंद्रा द्वारा अनेको पंचायतों में फर्जी बिल दे कर सरकार को ठगने का काम किया है, हास्य की बात यह है की न तो संजय चंद्रा के पास कोई व्यापारिक स्थान है और न व्यापार करने के लिए कोई सामान जब हमारी टीम ने इसकी वास्तविकता का पता लगाने के लिए संजय चंद्रा से संपर्क किया तो संजय ने बताया कि उनका GST रद्द हो गया है उसकी जानकारी उन्हें नहीं थी , संजय चंद्रा ने इन सब का आरोप अपने CA चार्टेड अकाउंटेंट की होने का हवाला दिया ,वहीं शासन के आम वेबसाइट से यह पता चलता है की उनका (GST) जीएसटीधारक द्वारा आवेदन देने से रद्द किया गया है

Back to top button