Uncategorizedक्राइमछत्तीसगढ़बिलासपुर

गड़े धन (हंडा) पाने की लालच में अपने ही साथी को चढ़ाया बलि….ऐसे हुआ पूरे मामले का खुलासा……।

बिलासपुर 18 nov 2021 । अंधे कत्ल को सुलझा कर शातिर हत्यारों को हिर्री पुलिस ने सतना और जबलपुर से धर दबोचा है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने गड़े धन के लालच में दिया घटना को अंजाम दिया है। आरोपी यू ट्यूब के माध्यम से तंत्र मन्त्र सीखते थे।

तथा वहीं मिली जानकारी के अनुसार मामले का विवरण यह है कि दिनांक 13/04/21 को प्रार्थी राम प्रसाद साहू ने थाना हिर्री आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसका छोटा भाई सुरेश कुमार साहू को किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा धारदार हथियार से गले व चहरे में वार कर हत्या कर दिया है। जिसकी दर्दनाक मौत हो गई है वहीं जिसकी रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था । वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार झा , अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) रोहित कुमार झा एवं नगर पुलिस अधीक्षक शुश्री गरिमा द्विवेदी द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिए गये जिनके अनुसार आरोपियों की लगातार पतासाजी की जा रही थी परन्तु आरोपियों का कोई पता नहीं चल रहा था परन्तु पुलिस द्वारा लगातार प्रयास जारी था।

आरोपी पुलिस के गिरफ्त में..

मृतक से सम्बंधित सभी व्यक्तियों के सम्बन्ध में पुलिस सभी के पृष्ठभूमि की पूरी जानकारी निकाल रही थी, इसी दौरान मृतक सुरेश साहू के जादू टोन व गड़े धन को तलाश करने में संलग्न रहने का पता चला । तब इसी प्रकार के व्यक्तियों जो मृतक से जुड़े थे जिनकी पतासाजी प्रारम्भ की गयी अनवरत प्रयास के बाद पुलिस को पता चला की घटना के बाद से सम्बंधित व्यक्तियों में आरोपी सुभाष दास मानिकपुरी एवं माखन दास दोनों ही घटना के बाद से गायब है ।

तब इनके सम्बन्ध में पतासाजी प्रारम्भ की गयी परन्तु कई वर्षो से इन दोनों के परिवार वालो से इनका सम्बन्ध ख़राब होने के कारण कोई भी व्यक्ति इनके संपर्क में नहीं था , जिसके कारण इनके सम्बन्ध में कोई जानकारी नहीं मिल रही थी इसी दौरान जानकारी प्राप्त हुई कि घटना के कुछ दिन बाद माखन दास ने बताया था कि वह सुभाष के साथ जबलपुर में रह रहे है ।

कठोरता से हुई पूछताछ तो कबूला जुर्म

इसी आधार पर आरोपियों की पतासाजी हेतु टीम रवाना की गयी जो जबलपुर जाकर पतासाजी करने पर सतना में मेडिकल कालेज में काम करने की जानकारी मिली जहाँ गहन छानबीन करने के बाद बामुश्किल आरोपी माखन दास को हिरासत में लिया गया जिसने सुभाष को जबलपुर में गार्ड की नौकरी करना बताया जिसकी निशानदेही पर आरोपी सुभाष को भी पकड़ा गया जिनसे घटना के सम्बन्ध में कड़ाई से पूछताछ करने पर अपना जुर्म कबूला और गड़े धन व हंडा के लालच में आकर मृतक सुरेश साहू की बलि देना स्वीकार किये ।

आरोपियों से विस्तृत रूप से पूछताछ करने पर बताया कि आरोपी सुभाष वर्ष 2012 से गड़े धन की तलाश कर रहा है व जादू टोना का काम कर रहा है जिसकी पहचान गड़े धन खोजने के चक्क्कर में माखन दास से हुई जो सुभाष को नए नए लोग से मिलवाता था जिनको कोई पारिवारिक समस्या रहती थी जिसे सुभाष जादू टोने से ठीक करने का दावा कर पैसे वसूल लेता था इसी दौरान माखन ने अपने पूर्व परिचित अपने गाँव के सुरेश साहू का भी परिचय सुभाष से कराया सुरेश भी कई वर्षो से गड़े धन की तलाश कर रहा था जिससे इनके बिच घनिष्टता बढ़ गयी ।

यूट्यूब से सिखतें थें तंत्र मंत्र

ये सभी यू ट्यूब से जादू टोने के नए नए विडियो देखते व उसपर अलग अलग जगहों पर प्रयोग करते थे ।
इसी बिच सुभाष और माखन ने सुरेश की बलि देकर गड़े खजाने को खोज निकालने का प्लान बनाया जिसके लिए नवरात्रि के पहले की अमावस्या का दिन तय किया और उसी दिन मुरु पथराली खार क्षेत्र में तंत्र मन्त्र कर कुल्हाड़ी से सुरेश की हत्या कर दी और पकडे जाने के भय से फरार हो गये l
पुलिस द्वारा लगातार पतासाजी कर मामले का पर्दाफास करने में सफलता पाई आरोपियों को हिरासत में लेकर अन्य तथ्यों पर जांच कर रही है l मामले को सुलझाने में थाना प्रभारी यू.एन.शांत कुमार साहू ,आरक्षक वीरेन्द्र साहू ,प्रशांत महिलांगे एवं कृष्णा कपूर की विशेष भूमिका रही l

आरोपियों के नाम –

1.सुभाष दास मानिकपुरी पिता विजय प्रसाद उम्र 42 वर्ष सा लखनपुर अंबिकापुर हाल कोडिया पारा सिरगिट्टी


2.माखन दास पिता सालिक दास उम्र 40 वर्ष सा ग्राम खरकेना हाल कोडिया पारा सिरगिट्टी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button