Uncategorizedक्राइमछत्तीसगढ़सारंगढ़

सारंगढ़/मिथुन की माँ ने सारंगढ थाने में लगाई गुहार कहा मेरे बेटे को जलाकर मारा गया …. मिथुन की हत्या हुई या आत्महत्या ? … प्रेम प्रसंग का है मामला ?

सारंगढ । सारंगढ मुख्यालय के ग्राम पचपेड़ी में 25 दिसम्बर 2021 को सुबह से क्रिसमस का त्यौहार मसीही परिवारों के दुवारा धूम धाम से मनाया जा रहा था और सभी लोग ईशा मसीह के प्रार्थाना में लीन थे इस प्रार्थाना कार्यक्रम में सारंगढ मौहारभाठा (कुटेला ) निवासी श्रीमती कलश बाई जोल्हे और उसका पुत्र मिथुन जोल्हे भी पहुंचा था ।लोग प्रार्थना में मशगूल थे तभी मिथुन अपने माँ को अपने मोबाईल को देता है औऱ कहता है मैं आ रहा हूँ । उसकी मां प्रार्थाना स्थल में लीन हो जाती है उधर उसका पुत्र मिथुन माँ ,,माँ चिल्लाते हुए प्रार्थाना सभा की ओर आग में जलते हुए भागा आता है वह उसके आवाज को पहचान लेती है और अपने बेटे के पास जाने के लिए तिलमिलाती है पर कुछ लोग उसे रोक लेते है यह सभी वाक्या मिथुन की माँ देखती है तभी दो लोग पीछे से जल रहे मिथुन को धक्का मरते हैं और मिथुन वहीं जलते हुए गिर जाता है और उसकी मौत हो जाती है । वह उस समय भी वहां जाना चाहती है पर कुछ देर के लिए अभोल हो जाती है ऐसा मिथुन की माँ का कहना है। आखिर प्रार्थना स्थल से मिथुन कहाँ गया ?किसके पास गया ऐसा क्या हुआ यह बात अभी भी गर्भ में है ।सारंगढ पुलिस के दुवारा इस घटना में उस दिन पंचनामा कर मर्ग कायम कर शव को परिवार को सौंप दिया गया था। पुरी घटना एक ओर आत्म हत्या की लग रही है ? मिथुन की माँ कलश बाई जोल्हे ने आज सारंगढ थाने में एक आवेदन दी है जिसमें उन्होंने जलाकर मारने के सम्बंध में जांच की मांग की है और यही नहीं उसके पुत्र के अंतरंग के सम्बंध में भी पुलिस को जानकारी देते हुए प्रताड़ना और जलाकर मारने की आरोप लगाई है ।

क्या है पुरा मामलामिथुन की माँ अपने बेटे के अंतरंग के बारे में अपने आवेदन में सारंगढ पुलिस के समक्ष बात रखी है जिसमें कहा गया है कि मेरा बेटा अभी सारंगढ में पढ़ाई कर रहा था वह ग्राम पचपेड़ी के युवती रागनी (परिवर्तित नाम ) प्रेम करता था दोनों में बहुत प्यार था रागनी कॉलेज में पढ़ती है वह एक दिन हमारे घर अक्टूबर में आयी तब उससे पूछ -ताछ की तब वह बताई मैं मिथुन से प्यार करती हूं शादी करना चाहते हैं तब मैंने उसे उसके घर जाने को कही ।उस दिन से वह कई बार हमारे घर में आई थी खाना खाकर जाती थी ।मेरे बेटे और रागनी में बहुत प्रेम था दोनों शादी करना चाहते थे ।23 अक्टूबर 2021 की बात है इस दिन मेरा पुत्र मिथुन रागनी के घर पचपेड़ी गया और विवाह की बात रखा पर जब रागनी के घर से लौटा तो मैंने अपने पुत्र से पूछा तब वह बताया कि उसके पिता ने धक्के मार कर निकाल दिया था ।इस घटना से वह बहुत परेशान था ।पर दोनों में बहुत प्रेम था ।वह अक्सर उसे पचपेड़ी बुलाती थी और वहाँ के चर्च में प्रार्थना में भेंट होते थे ।इस तरह अपने आवेदन में बात रखी है वही रागनी के पिता पर प्रताड़ित करने और जलाकर मारने की आरोप लगाई है और सडयंत्र कारियों पर उचित कार्यवाही की मांग की है वही उनके मोबाईल की जांच की मांग भी किया गया है ।आखिर दोनो में इतना प्रेम था तो ऐसा क्या हुआ कि मिथुन को आत्मा हत्या करना पड़ा या उसकी हत्या हो गई यह बात गर्भ में है कि आखिर 25 दिसम्बर को दोपहर उसके साथ क्या हुआ था ।अब यह विषय जांच का विषय है आखिर दोषी कौन है ।मिथुन ने आत्महत्या किया या हत्या की गई है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button