Uncategorizedक्राइमछत्तीसगढ़

जादू टोने के शक में बुजुर्ग की कुल्हाड़ी मारकर दर्दनाक हत्या का ऐसे हुआ खुलासा…

दंतेवाड़ा 12 jan 2021 । जिले से एक सनसनीखेज वारदात सामने आ रही हैं जहाँ 4 लोगों ने मिलकर एक 60 साल के बुजुर्ग की दर्दनाक हत्या की वारदात को अंजाम दिया है। तथा वहीं मामला 5 जनवरी का है। वारदात के 6 दिन बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। तो वहीं बताया जा रहा है कि, जादू-टोने के शक में बुजुर्ग को कुल्हाड़ी से मार-मार कर अधमरा कर दिया गया था। जिसकी जगदलपुर डिमरापाल मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गई। मंगलवार को पुलिस ने प्रेस वार्ता लेकर मामले का खुलासा किया है। ASP राजेन्द्र जायसवाल ने बताया कि, चारों आरोपियों को न्यायालय में पेश कर जेल भेजा गया है। मामला कुआकोंडा थाना क्षेत्र का है।

तथा वहीं मिली जानकारी के मुताबिक, जिले के छोटे गुडरा का रहने वाला गगन उर्फ गंगा मंडावी (37) अपने घर में दारू पार्टी रखा था। इस दारू पार्टी में गांव के ही हिड़मा मंडावी (60) (जिसे मारा गया) और एक अन्य ग्रामीण हूंगा कलमू (50) को भी बुलाया गया था। तीनों ने मिलकर जमकर दारू पीकर वारदात को अंजाम दिया है।

हूंगा और गगन ने हिड़मा को खूब शराब पिलाई। जिसके बाद उसे घर भेज दिया। फिर गगन उर्फ गंगा गांव के ही एक अन्य ग्रामीण अजय उर्फ कोसा मंडावी(20) के घर गया। जिसे बताया कि हिड़मा शराब के नशे में हैं। इसके बाद गांव के ही एक और ग्रामीण कोसा उर्फ दर्री (24) को घर से कुल्हाड़ी लेकर बुलाया। जिसके बाद चारों ग्रामीण उसी रात में हिड़मा मंडावी के घर गए।

हिड़मा शराब के नशे में सोया हुआ था। तीन लोगों ने हिड़मा का पैर कमर पकड़ लिया। चौथे ने हिड़मा के चेहरे और सिर पर कुल्हाड़ी से वार किया। कुल्हाड़ी से मार-मार कर हिड़मा को अधमरा कर दिया गया था। हिड़मा की जान चली गई समझ कर चारों वहां से फरार हो गए। जिस समय वारदात को अंजाम दिया गया उस वक्त हिड़मा के घर में और कोई नहीं था। थोड़ी देर बाद घायल अवस्था में हिड़मा खुद चलकर पास में ही रहने वाले अपने एक रिश्तेदार के घर पहुंचा। जहां से इसे फौरन पहले दंतेवाड़ा जिला अस्पताल लाया गया फिर जगदलपुर रेफर किया गया था। जहां इलाज के दौरान ग्रामीण की मौत हो गई।

पुलिस ने की पड़ताल तो हुआ खुलासा
ASP राजेन्द्र जायसवाल ने बताया कि, मामले के बारे में जब जानकारी मिली तो कुआकोंडा थाना प्रभारी खोमन भंडारी के साथ जवानों की एक टीम बनाई गई थी। जिन्हें गांव में पड़ताल के लिए भेजा गया था। टीम को जानकारी मिली थी 2 ग्रामीणों ने हिड़मा के साथ दारू पार्टी की थी। इन दोनों ग्रामीणों को हिरासत में लिया गया था। जिन्होंने पूछताछ में सारा राज उगल दिया। आरोपियों ने बताया कि बुजुर्ग जादू टोना करता था। इसलिए उसे मार दिया। पुलिस को बताया कि कुल चार लोगों ने मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। जिसके बाद सभी की गिरफ्तारी की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button