Uncategorized

आमिर खान की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ को बायकॉट करने की मांग का असल मुद्दा आया सामने ……।

मुम्बई: हिंदी सिनेमा के दिग्गज कलाकार आमिर खान की आने वाली फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ इन दिनों काफी चर्चा में है। बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार आमिर खान की नई मूवी लाल सिंह चड्डा 11 अगस्त को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है। सोशल मीडिया पर हैशटैग बायकॉट आमिर खान ट्रेंड होने लगा। लोग ‘लाल सिंह चड्ढा’ का बहिष्कार करने की मांग करने लगे। नेटिजन्स उनकी फिल्मों को कभी न देखने की कसमें खाने लगे।

दो साल पहले से उठ रही बायकॉट की मांग
जी हां, सोशल मीडिया पर बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ को बायकॉट करने की मांग आज से नहीं उठ रही है। दरअसल, आज से दो साल पहले आमिर खान ने इस्तांबुल में राष्ट्रपति निवास, ह्यूबर मेंशन में तुर्की की प्रथम महिला एमिन एर्दोगन से मुलाकात की थी। एक रिपोर्ट के मुताबिक, आमिर खान ने बैठक के दौरान तुर्की में ‘लाल सिंह चड्ढा’ की शूटिंग और भारत में उनके और उनकी पत्नी किरण राव द्वारा स्थापित विभिन्न सामाजिक जिम्मेदारी परियोजनाओं पर चर्चा की थी।

आमिर ने रखी अपनी बात
इस मामले पर अपनी बात रखते हुए आमिर ने कहा था कि- ”कुछ लोगों को लगता है कि मैं भारत को पसंद नहीं करता हूं, मुझे काफी दुख होता है जब लोग मेरी फिल्म का इस तरह से बहिष्कार करते हैं। लेकिन मैं उन्हें ये बताना चाहता हूं जो वो सोच रहे हैं वो एक दम गलत है। मेरा उनसे अनुरोध है कि मेरी फिल्म को बॉयकॉट न करें।

15 अगस्त को ही तुर्की की प्रथम महिला एमिन एर्दोगन सोशल मीडिया पर आमिर खान के साथ तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा था, कि “मुझे इस्तांबुल में विश्व प्रसिद्ध भारतीय अभिनेता, फिल्म निर्माता और निर्देशक आमिर खान से मिलकर बहुत खुशी हुई। मुझे यह जानकर खुशी हुई कि आमिर ने अपनी नवीनतम फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ की शूटिंग तुर्की के विभिन्न हिस्सों में पूरी करने का फैसला किया है।” इस ट्वीट ने सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया और दोनों की फोटोज वायरल होने लगीं।

Back to top button