Uncategorizedक्राइमछत्तीसगढ़रायगढ़

6 वीं बटालियन के सुने मकान में चोरी, कोतवाली पुलिस की जांच में बटालियन के सिपाही की भूमिका संदिग्ध….

चोरी के सारे आभूषण सशस्त्र बल के सिपाही से बरामद, कोतवाली पुलिस ने चोरी के आरोप में भेजा रिमांड….

6वीं बटालियन में पदस्थ आरोपित कांस्टेबल लम्बे समय से ड्यूटी से है फरार….

*रायगढ़* । आज दिनांक 06.06.2022 को 06 वीं बटालियन उर्दना में रहने वाली श्रीमती अनस्तसिया मिंज पति राकेश मिंज (40 साल) थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई कि दिनांक 22.05.2022 को अपने गृहग्राम कांसाबेल, जशपुर गयी थी । पड़ोस की रहने वाली ज्योति एक्का दिनांक 06.06.2022 के सुबह मोबाईल से बताई कि आपके घर का ताला टूटा हुआ है । जानकारी मिलने पर आकर देखी तो घर का ताला टूटा हुआ तथा सामान बिखरा पड़ा एवं आलमारी का दरवाजा खुला हुआ था । गांव जाने से पहने आलमारी में सोने के चैन, अंगुठी, चांदी का पायल करीबन 70-80 हजार रूपये का था । नकबजनी की रिपोर्ट पर थाना कोतवाली में अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । अपराध विवेचना, अज्ञात आरोपी की पतासाजी के लिए आज सुबह थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक मनीष नागर के हमराह स्टाफ 6वीं बटालियन पहुंचे, जहां मुखबिर से सूचना मिली कि 6वीं बटालियन में कार्यरत आरक्षक प्रवीण लकड़ा की गतिविधियां संदिग्ध है ।

टीआई मनीष नागर द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को घटना के संबंध में संपूर्ण जानकारी देकर वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन पर छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के आरक्षक प्रवीण लकड़ा को हिरासत में लिया गया जिससे चोरी के संबंध में पूछताछ पर उसने चोरी करना स्वीकार किया है जिसके मेमोरेंडम पर चांदी के आभूषण पायल, बिछिया इत्यादि आदि की जप्ती की गई जिसे स्थानीय ज्वेलर्स से जांच कराया गया जो करीब ₹43,470 का होना बताएं । नकबजनी के अपराध में आरोपित *प्रवीण लकड़ा पिता स्वर्गीय निकोलस लकड़ा उम्र 28 वर्ष निवासी जानचूआं थाना नारायणपुर जिला जशपुर वर्तमान पता 6वीं बटालियन प्लॉट नंबर 48 मकान नंबर 37 थाना कोतवाली रायगढ़* को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया है । आरोपित प्रवीण लकड़ा के संबंध में छठवीं बटालियन से जानकारी मिली कि वह लम्बे समय से अपनी ड्यूटी से गैरहाजिर चल रहा है । संपूर्ण कार्यवाही में थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक मनीष नागर, प्रधान आरक्षक श्याम देव साहू, आरक्षक कोमल तिवारी, रूप राम साहू की सराहनीय भूमिका रही है ।

Back to top button